Teri Khair Mangdi Lyrics in Hindi – Baar Baar Dekoh

जान वाला तू तडपाये
लौट के फिर तू कड़े ना आया
अखां दे नाल दिल नु रुलाया
बड़ा सताया तू
याद तेरी बस आंदी जावे
पर तेरी कोई ख़बर ना आवे
दिल मेरा हूँ दब्दा जावे
बड़ा सताया तू

तेनु हूँ मेरी
कड़े याद आके तड़पांदी नहीं
अखियाँ चों तेरी
किते निंदर उड़ फ़ूड जांदी नहीं

आवे तू मुडके
हूँ मैं ता करां फरयाद नि
राहां विच जींद बैठी
एक तेरियां यादां

एक तेरी खैर मंगदी
मैं माँगा ना कुझ होर
एक तेरी खैर मंगदी
ना टूटे दिल की डोर
एक तेरी खैर मंगदी
अब कोई चले ना जोर
एक तेरी खैर मंगदी मैं

एक तेरी खैर मंगदी
मैं माँगा ना कुझ होर
एक तेरी खैर मंगदी
ना टूटे दिल की डोर
एक तेरी खैर मंगदी
अब कोई चले ना जोर
एक तेरी खैर मंगदी मैं

तेरे बिन सीने विच
साह रुक गए ने
तू जो गए ते मेरे
राह रुक गए ने

पाके जो तेनु मेरे दिल ने गवाया ऐ
दर्द जुदाई वाला
नैना विच छाया ऐ

रब करे तेनु कोई
ग़म तड़पावे ना
बारीसां दा मौसम तेरी
अख वाल जावे ना

सदेयाँ नसीबां वे
कदों दूर होनियाँ ने
ऐ तनहाइयाँ..

तेरी खैर मंगदी
मैं माँगा ना कुझ होर
एक तेरी खैर मंगदी
ना टूटे दिल की डोर
एक तेरी खैर मंगदी
अब कोई चले ना जोर
एक तेरी खैर मंगदी मैं

हो एक तेरी खैर मंगदी
मैं माँगा ना कुझ होर
एक तेरी खैर मंगदी
ना टूटे दिल की डोर
एक तेरी खैर मंगदी
अब कोई चले ना जोर
एक तेरी खैर मंगदी मैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *